कोशिश जारी रखनी है


चाहे जितना अंधकार हो,

मुश्किल कितनी भी पहाड़ हो    

दुर्गम राहों में चलना हो,

तूंफा से डटकर लड़ना हो

संघर्ष नहीं चुकने देना है

अपनी तैयारी करनी है

कोशिश जारी रखनी है

                                         माना कि  हम बालक हैं,

                                         सृष्टी के प्रतिपालक हैं

                                         अपनी जिज्ञासा के बल पर,

                                         निकट भविष्य के नायक हैं

                                         अपने उद्यम मनोयोग से,

                                         दुनिया प्यारी करनी है

                                         कोशिश जारी रखनी है                                        लोगों  की जटिल समस्याएं हैं ,

मुश्किलें विकट  तड़पती  हैं

कुछ गम के मरे लोग यहाँ,

कुछ को तन्हाई सताती है

ऐसे कठिन समय में हमको,

बातें प्यारी करनी है

कोशिश जारी रखनी हैं

---चेतन कुमार ---



Comments